दर्शील सफारी का सिंधिया कन्या विद्यालय में आगमन नाटक का मंचन

सिंधिया कन्या विद्यालय के सभागार में ‘कैसे करेंगे’ नाटक का भव्य आयोजन किया गया। इस नाटक को मुंबई से आए ‘आउट ऑफ ब्रॉक्स प्रोडेक्शन’ ने प्रस्तुत किया था।
विद्यालय प्राचार्या श्रीमती निशी मिश्रा द्वारा समस्त टीम मेमबर्स का स्वागत किया तथा स्मृति चिह्न प्रदान किए गए। इस प्रोडक्शन का एकमात्र उद्देश्य पूरे भारत में युवा पीढ़ी को लेखक, अभिनेता, निर्देशक और निर्माता बनने के लिए प्रेरित करता है। इस नाटक में चार पात्र थे सौरभ (दर्शील सफारी), कपिल (अभिषेक पटनायक), रुद्र (प्रखर सिंह)अम्रता (गौरांगी दंग)तथा इसके निर्देशक सुकेतु शाह थे। प्रस्तुत नाटक के माध्यम से ‘मल्टीपल पर्सनलिटी डिसऑर्डर’ को दर्शाया गया है। ये बीमारी अभिभावकों द्वारा बचपन में बच्चों के साथ किए गए दुर्व्यवहार तथा सख्ती के कारण होती है।


इस नाटक में सौरभ पारसरामपुरिया (दर्शील सफारी) एक २१ वर्षीय लड़का है जो जीवन की हर परीक्षा में प्रथम आता है, वह आई आई टी का टॉपर है और अपनी जिंदगी के लक्ष्य एमआई टी में दाखिले के लिए दिन रात मेहनत करता है। इसके विपरीत इनका बड़ा भाई कपिल (अभिषेक पटनायक) एक आत्मविश्वासहीन एक एडवोटाइजमेंट कंपनी में काम करता है, मां की मृत्यु के बाद वह मल्टीपल पर्सनलिटी डिसऑर्डर से ग्रसित है। कपिल के व्यक्तित्व के दो पहलू और थे एक सनि (हरियाणवी) और एक लखनवी कवि। ये दोनों ही कपिल के व्यक्तित्व पर भारी पड़ते है।
सौरभ अपना एमआई टी का स्वप्न त्यागकर अपने भाई की सेवा में जुट जाता है और अपने बड़े भाई को अपने विभिन्न व्यक्तित्वों पर काबू करना सिखा देता है जिसके लिए उसे अपनी जान भी जोखिम में डालनी पड़ती है। अंत में कपिल ने विभिन्न व्यक्तित्वों को अपनाते हुए सफलता प्राप्त की और सौरभ का भी एमआईटी का सपना पूरा हुआ। इस प्रकार प्यार, देखभाल और समय देने पर हम बड़ी से बड़ी समस्या पर काबू पा सकते हैं।
इस प्रकार सिंधिया कन्या विद्यालय में आउट ऑफ ब्रॉक्स प्रोडेक्शन ने इस वर्ष फिर से एक बार भव्य प्रस्तुति देकर छात्र छात्राओं का दिल जीत लिया। इस कार्यक्रम में विद्यालय प्राचार्या श्रीमती निशी मिश्रा, उप प्राचार्या नैना ढिल्लन, बरसर श्री मयंक मधुकर, मीडिया प्रभारी वैशाली श्रीवास्तव, इवेंट कोडिनेटर श्रीमती संजिता लूथरा आदि उपस्थित थे।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *