अपराधों पर नियंत्रण पाने इंटर स्टेट कोआर्डिनेशन सेल बनेगा

ग्वालियर: पुलिस डिपार्टमेंट संयुक्त रूप से अपराधों पर कैसे काबू पा सकता है इसको लेकर ग्वालियर में इंटस्टेट पुलिस मीट आयोजित की गई. इसमें राजस्थान, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश  के बड़े पुलिस अधिकारियों ने  अपने अपने सुझाव रखे जिसके बाद खनन, मादक पदार्थों की तस्करी और शातिर अपराधियों पर नियंत्रण पाने के लिए कई अहम फैसले किए गए हैं.
ग्वालियर में इंटर स्टेट पुलिस की मीटिंग में लगभग 25 से ज्यादा आईपीएस अफसरों ने अपराधों पर काबू कैसे पाया जाए इसको लेकर सबसे पहले अपने – अपने सुझाव रखे. राजस्थान उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश कि पुलिस संयुक्त रूप से कैसे इन पर काबू पा सकती है इसको लेकर कई अहम फैसले किए गए. जिसमें  हर जिले के एसपी ऑफिस में एक इंटर स्टेट कोआर्डिनेशन सेल बनाया जाएगा. जोकि प्रमुख इश्सू सॉल करेगा. जैसे किसी छात्र छात्राओं व महिलाओं की गुमशुदगी, अंतर्राज्यीय अपराधियों की फरारी. अग्यात शवों की पहचान , एटीएम क्लोनिंग रैकेट, और बदमाशों की पूरी जानकारी का आदान प्रदान करना भी शामिल है. आईजी ग्वालियर राजा बाबू सिंह ने कहा कि उम्मीद है कि इस मीटिंग में जो भी फैसले लिए गए हैं उसके अच्छे परिणाम आएंगे. उन्होंने यह भी कहा कि अपराधियों की कोई पॉलिटिकल बाउंड्री नहीं होती . ये एक राज्य से दूसरे और ऐर दूसरे से तीसरे राज्य में प्रवेश कर जाती है. इसलिए यह जरूरी है कि राज्यों की सीमाओं पर जो थाने हैं उनके प्रभारी भी संयुक्त रूप से कोआर्डिनेशन रखेंगे.
0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *