GWALIOR: दो युवकों ने फांसी लगाई, सुसाइड नोट नहीं मिला

ग्वालियर। परिजनों से जल्दी जगाने की कह कर सोए युवक ने फांसी लगा ली। घटना इंदरगंज थाना क्षेत्र के खल्लासी पुरा शिंदे की छावनी इलाके में घटित हुई। घटना का पता चलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच के बाद मर्ग कायम कर शव को पीएम हाउस भिजवाया। अभी पता नहीं चल सका है कि किन कारणों के चलते युवक फांसी पर झूला है।

रात में बोला था सुबह जल्दी जगा देना
इंदरगंज थाना टी आई मनीष डावर ने बताया कि थाना क्षेत्र के खल्लासी पुरा शिंदे की छावनी निवासी सादिक खान उम्र 21 साल पुत्र अनवर खान प्राइवेट जॉब करता है। और वह ड्यूटी कर वापस आया और परिवार के साथ खाना खाने के बाद दूसरी मंजिल पर सोने चला गया। सोने से पहले परिजनों से बोला कि उसे सुबह जल्दी जगा देना। सुबह 3 बजे उसका भाई रफीक खान उसे जगाने पहुंचा। तो सादिक बिस्तर पर नहीं था। वह उसे तलाशते हुए ऊपरी मंजिल पर पहुंचा तो सादिक बल्ली पर प्लास्टिक की रस्सी के फंदे पर लटका हुआ था। मामले का पता चलते ही सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। और जांच के बाद शव को पीएम हाउस पहुंचाया। फिलहाल पता नहीं चल सका कि किन कारणों के चलते उसने फांसी लगाई है।

4 बेटियों के पिता ड्राइवर ने सुसाइड कर लिया
वहीं गोला का मंदिर थाना क्षेत्र के हनुमान नगर में एक ड्राइवर ने फांसी लगाकर जान दे दी है। गोला का मंदिर थाना प्रभारी एचएल चौहान ने बताया कि मृतक राकेश पाल पुत्र रामसिया पाल ने अपने कमरे में फांसी लगाकर जान दी है। जिस समय उसने फांसी लगाई उस समय घर पर वह अकेला था। उसकी पत्नी और बच्चे रिश्तेदारी में एक विवाह समारोह में शामिल होने के लिए गए हुए थे। घटना का पता चलते ही पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है। फिलहाल पता नहीं चल सका है कि किन कारणों के चलते उसने फांसी लगाई है। बताया गया है कि मृतक के 4 बेटियां और एक बेटा है।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *